बर्नर फोन ले जाने की सलाह साइबर हमले से सावधान रहें खिलाड़ी

  • Post By Admin on Jan 21 2022
बर्नर फोन ले जाने की सलाह साइबर हमले से सावधान रहें खिलाड़ी

बीजिंग: चीन में होने वाले शीतकालीन ओलंपिक के दौरान बाहर से जाने वाले खिलाड़ियों व कर्मियों को पश्चिमी देश साइबर हमले से बचने के लिए विशेष सलाह दे रहे हैं । कहा जा रहा है कि वे कोई अस्थायी फोन या बर्नर फोन ले जाएं और हो सके तो अपने डिवाइस को अपने घर छोड़कर आएं। अगर किसी कारण से ला रहे हों तो डाटा डिलीट करें और जाने तथा चीन से वापसी से पहले कुछ सुरक्षा तरीकों को अपनाएं।

कई राष्ट्रीय ओलंपिक समितियों ने कहा कि वे चीन में 4 से 20 फरवरी से होने वाले खेलों के दौरान सुरक्षा जोखिमों से बचने और किसी भी निगरानी से निपटने के लिए अपने एथलीटों और कर्मचारियों को अस्थायी उपकरण प्रदान करेंगी।

यूनाइटेड स्टेट ओलंपिक एंड पैरालंपिक समिति ने एक एडवाइजरी में कहा कि यह माना जाना चाहिए कि प्रत्येक टेक्स्ट, ईमेल, ऑनलाइन विजिट और एप्लिकेशन एक्सेस की निगरानी की जा सकती है या उससे छेड़छाड़ की जा सकती है। अमेरिका ने अपने खिलाड़ियों से बीजिंग में किराए पर या डिस्पोजेबल लैपटॉप व फोन लेकर इस्तेमाल करने को कहा है। इसने खिलाड़ियों से ये भी कहा है कि अगर वे अपनी पर्सनल डिवाइसेज ले जा रहे हैं तो चीन जाने से पहले और बाद में व्यक्तिगत उपकरणों से सभी डेटा को डिलीट कर दें। इसने यह भी सिफारिश की है कि सभी सदस्य अमेरिका छोड़ने से पहले अपनी डिवाइस पर वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क (वीपीएन) इंस्टॉल कर लें।

अमेरिका ने कहा कि उनके सिस्टम और डेटा की सुरक्षा के लिए सुरक्षा उपायों के बावजूद कि चीन में काम करते समय डेटा सुरक्षा या गोपनीयता की कोई उम्मीद नहीं होनी चाहिए। हालांकि इस मामले पर बीजिंग ओलंपिक अधिकारियों से तत्काल कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है। इंटरनेशनल ओलंपिक कमेटी ने कहा कि यह हमारे लिए नहीं है कि हम उस एडवाइजरी पर टिप्पणी करें। कनाडाई ओलंपिक समिति ने कहा कि उसने सदस्यों को सलाह दी है कि वे अपने निजी उपकरणों को घर पर छोड़ने पर विचार करें और अतिरिक्त सतर्क रहें क्योंकि खेलों ने "साइबर अपराध के लिए एक अनूठा अवसर" दिया किया है। स्विस और स्वीडिश समितियां भी अपने प्रतिनिधिमंडलों को नए उपकरण प्रदान करेंगी और उन्हें साइबर सुरक्षा के खिलाफ उठाए जा सकने वाले उपायों के बारे में जानकारी दी है।

शोधकर्ताओं ने बीजिंग आयोजन समिति के माई2022 ऐप को लेकर कहा है कि इसमें सुरक्षा खामियां हैं जो इसे गोपनीयता भंग के लिए इसे कमजोर बनाती हैं। चीन ने माई2022 का उपयोग सभी उपस्थित लोगों को अपने स्वास्थ्य की निगरानी के लिए करने को कहा है।