गौतम बुद्ध के उपदेशों में मानव कल्याण के सिद्धांत निहित : शांति मित्र

  • Post By Admin on Oct 22 2021
गौतम बुद्ध के उपदेशों में मानव कल्याण के सिद्धांत निहित : शांति मित्र

कुशीनगर : पर्यटन व संस्कृति मंत्रालय द्वारा कुशीनगर में आयोजित त्रिदिवसीय बुद्धिस्ट कॉन्क्लेव-2021 के समापन सत्र को संबोधित करते हुए मुख्य वक्ता अंतरराष्ट्रीय बौद्ध शोध संस्थान लखनऊ के अध्यक्ष शांतिमित्र ने कहा कि भगवान बुद्ध के मूल उपदेश में मानव कल्याण के सिद्धांत निहित है। सभी धर्मों का लक्ष्य अच्छे शासन व समाज का निर्माण है। बौद्ध धर्म का भी यही उद्देश्य है। शुक्रवार को कॉन्क्लेव का समापन हो गया। 20 अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कॉन्क्लेव का उद्घाटन किया था।

समापन सत्र को सम्बोधित करते हुए कुशीनगर के जिलाधिकारी एस राज लिंगम ने कहा कि इस कॉन्क्लेव के आयोजन से कुशीनगर का महत्व और बढ़ गया है। कुशीनगर जनपद में स्थित बुद्ध से जुड़े सभी स्थलों का विकास कराया जाएगा। अवशेष यदि कहीं स्थित हैं, तो उनका उत्खनन कराकर प्रकाश में लाया जाएगा और उनका विकास कराया जाएगा।

राष्ट्रीय संस्कृत संस्थान त्रिपुरा के डॉ. अवधेश कुमार चौबे ने कहा कि बौद्ध दर्शन सभी धर्मों का समुच्चय है। भगवान बुद्ध की करुणा समस्त प्राणियों के लिए है। सरदार मंजीत सिंह ने कहा कि गुरुनानक देव ने भी नेपाल में रह कर बुद्ध का उपदेश दिया था। यदि हम एक नहीं हुए तो राष्ट्र कमजोर हो जाएगा। भन्ते शील रतन, कुप्पू स्वामी आदि संबोधित किया।

आयोजन में यूपी, बिहार, महाराष्ट्र , नेपाल व भूटान के बौद्ध अनुयाइयों ने भाग लिया। डॉ. अम्बिका प्रसाद त्रिपाठी ने आभार ज्ञापित किया व संचालन प्राचार्य डॉ. अमृतांशु शुक्ल व भदन्त आर्यवंश ने किया। अनेक बौद्ध भिक्षुओं, बौद्ध अनुयाइयों व बौद्ध साहित्य, शिक्षण से जुड़े लोगों ने विचार व्यक्त किए।