नीतीश कुमार की विदाई के साथ शुरू होगी नौकरी देने की प्रक्रिया : तेजस्वी

  • Post By Admin on Oct 26 2020
नीतीश कुमार की विदाई के साथ शुरू होगी नौकरी  देने की प्रक्रिया : तेजस्वी

बेगूसराय : राजद नेता तेजस्वी यादव ने एक बार फिर बेरोजगारों को नौकरी देने का आश्वासन देने के साथ-साथ बिहार सरकार पर जोरदार हमला किया है। सोमवार को चेरिया बरियारपुर विधानसभा क्षेत्र के राजद प्रत्याशी राजवंशी महतो के पक्ष में छौड़ाही प्रखंड के पनसल्ला में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि नवरात्रि में हमने कलश के सामने संकल्प लिया है कि हमारी सरकार बनेगी तो मुख्यमंत्री बनते ही मैं सबसे पहले दस लाख बेरोजगारों को नौकरी देने का काम करूंगा। 

दस नवम्बर को नीतीश कुमार सरकार की विदाई होते ही नौकरी देने का काम शुरू हो जाएगा। इसके लिए फॉर्म भरने की फीस  माफ कर दी जाएगी और परीक्षा केंद्र पर आने-जाने का किराया माफ कर दिया जाएगा। किसानों के कृषि ऋण माफ कर दिए जाएंगे, पेंशन को चार सौ रुपए से बढ़ाकर एक हजार कर दिया जाएगा। सभी कर्मियों को समान काम का समान वेतन मिलेगा। आंगनबाड़ी कर्मी, आशा कर्मी और विकास मित्र के वेतन को दोगुना करने के साथ-साथ सेवा नियमित की जाएगी।तेजस्वी ने कहा कि नीतीश कुमार कह रहे हैं पांच साल और मौका दीजिए। मगर जिन्होंने 15 साल में कुछ नहीं किया, वह पांच साल में क्या करेंगे। महंगाई चरम पर है, प्याज का दाम 80 रुपए किलो हो गया है। तेजस्वी यादव ने कहा कि हमारे हेलीकॉप्टर के पीछे मोदी जी ने 25-30 हेलीकॉप्टर लगा दिए हैं। हम अकेले हैं और अकेले 243 विधानसभा क्षेत्र में जा रहे हैं। हम हर जात-पात के लोगों को साथ लेकर चलते हैं। मेरी सोच है नया बिहार बनाना, हम ठेठ बिहारी सब पर भारी पड़ेंगे।उन्होंने कहा ,चेरिया बरियारपुर की जनता 15 साल से परेशान है।लालू जी और महागठबंधन ने हमेशा जनता से जुड़े रहने वाले राजवंशी महतो को टिकट दिया है जबकि उन्होंने मुजफ्फरपुर शेल्टर होम जाने वाले को प्रत्याशी बनाया है। मुजफ्फरपुर में बालिकाओं के साथ दुष्कर्म हुआ, मुकदमा चल रहा है और वैसे लोगों को नीतीश कुमार विधायक बनाना चाहते हैं। तेजस्वी यादव ने कहा कि नीतीश कुमार की सरकार ने कोई काम नहीं किया, किसी को रोजगार नहीं दिया। एक सूई की फैक्ट्री भी नहीं लगाई गई, भूख नहीं मिटायी , पलायन नहीं रोका । अब वह किस मुंह से जनता से एक और मौका मांग रहे हैं।  तेजस्वी यादव को देखने उमड़ी भीड़ ने इस विधानसभा चुनाव के दौरान बेगूसराय में हुई सभी सभाओं को पीछे छोड़ दिया। जितने लोग मैदान में थे, उससे अधिक लोग मैदान से बाहर और आसपास की छतों पर चढ़कर भाषण सुनने के लिए बेताब रहे।  सभा खत्म होने के बाद 15 मिनट से अधिक समय तक तेल लेने के लिए हेलीकॉप्टर रुका रहा। इस दौरान भीड़ बेकाबू हो गई तथा हेलीपैड के चारों तरफ लगाए गए सभी बांस-बल्ले ध्वस्त हो गए।