बीएसएफ के खिलाफ ममता के दुष्प्रचार को लेकर मुखर हुए शुभेंदु अधिकारी

  • Post By Admin on Dec 09 2021
बीएसएफ के खिलाफ ममता के दुष्प्रचार को लेकर मुखर हुए शुभेंदु अधिकारी

मेदिनीपुर: पश्चिम बंगाल विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी ने बीएसएफ के खिलाफ दुष्प्रचार करने पर ममता बनर्जी को आड़े हाथ लिया है।

दरअसल, मंगलवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भारतीय सीमा रक्षक बीएसएफ को लेकर राज्य वासियों को सतर्क किया। इसके पलटवार में भाजपा नेता अधिकारी ने बिना नाम लिए गुरुवार को ट्वीट किया है। उन्होंने लिखा है कि वह बार-बार अपराध कर रही हैं। जानबूझकर वे बीएसएफ एवं पश्चिम बंगाल पुलिस के बीच मतभेद पैदा करने की कोशिश कर रही हैं। शुभेंदु अधिकारी ने ट्वीट में लिखा है कि प्रधानमंत्री, केंद्रीय गृहमंत्री एवं प्रतिरक्षा मंत्री से अनुरोध है कि वह इसके खिलाफ कदम उठाएं। राज्यपाल जगदीप धनखड़ से अनुरोध है कि वह इस बारे में राष्ट्रपति भवन को सूचित करें।

एक अन्य ट्वीट में शुभेंदु अधिकारी ने लिखा है कि हमें आश्चर्य हो रहा है कि एक राज्य की मुख्यमंत्री भारत के संविधान के प्रति वाकई में विश्वास रखती हैं एवं उसका अनुसरण करती हैं। इसे मानते हुए जिन्होंने शपथ लिया, वह कैसे बीएसएफ के खिलाफ आवाज बुलंद कर सकती हैं। बीएसएफ वही करता है, जो उचित होता है और उसी के लिए उसे नियुक्त किया गया है। अधिकारी ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के मंगलवार को उत्तर दिनाजपुर जिले के रायगंज में प्रशासनिक बैठक वाली वीडियो क्लिप भी ट्विटर पर अपलोड किया है। इस वीडियो में मुख्यमंत्री कहती दिख रही हैं कि राज्य के कानून की रक्षा करना राज्य सरकार का दायित्व है बीएसएफ का नहीं। बीएसएफ का दायित्व है, सीमा रक्षा करना लेकिन बीएसएफ अपने दायित्व से बाहर सीमावर्ती इलाकों में अंदर जा रहे हैं। सीमा से 15 किलोमीटर तक बीएसएफ की ड्यूटी है लेकिन बीएसएफ यह नहीं मान रहा है। हमारे सीमावर्ती जिले मालदह, मुर्शिदाबाद, उत्तर एवं दक्षिण दिनाजपुर के लोग एवं प्रशासन को और भी सतर्क रहने की जरूरत है क्योंकि बीएसएफ अपने दायित्व की सीमा से बाहर जाकर सीमावर्ती इलाकों में अत्याचार कर रहे हैं। इसके लिए हमारे राज्य पुलिस एवं प्रशासन को और सतर्क रहना होगा।