ई कॉमर्स कम्पनी अमेजॉन के खिलाफ स्वदेशी जागरण मंच ने खोला मोर्चा

  • Post By Admin on Oct 13 2021
ई कॉमर्स कम्पनी अमेजॉन के खिलाफ स्वदेशी जागरण मंच ने खोला मोर्चा

वाराणसी : विदेशी ई-कॉमर्स कम्पनी अमेजॉन के विरुद्ध स्वेदशी जागरण मंच ने मोर्चा खोल दिया है। कम्पनी के राष्ट्रव्यापी विरोध के क्रम में मंच के पूर्वी उत्तर प्रदेश काशी महानगर इकाई ने बुधवार को लंका स्थित काशी हिंदू विश्वविद्यालय के सिंह द्वार पर जमकर प्रदर्शन किया।

प्रदर्शन में शामिल विभिन्न व्यापारिक संगठनों के पदाधिकारियों ने कम्पनी पर हमला बोला। इस दौरान मंच के क्षेत्रीय संगठन मंत्री अजय कुमार ने कहा कि अमेजॉन वाणिज्य मंत्रालय के प्रेस नोट-2 का उल्लंघन किया है। इसमें कहा गया है कि कम्पनी भारत में आनलाइन व्यापार करते समय अपने सामानों का दाम खुद कम नहीं कर सकते। ना ही सामानों की डंपिंग और सामानों का स्टोरेज करेंगे और न ही सामानों का 1/3 अधिक सामान किसी कम्पनी को ट्रांसफर कर सकते हैं। अमेजॉन ने इन नीतियों का खुला उल्लंघन कर पिछले तीन वर्षो में 8452 करोड़ रूपये रिश्वत के रूप में प्रोफेसनल एडवाइजरों को बांटा है, जो सीधा भ्रष्टाचार है। मंच इसकी जांच की मांग करता है।

पूर्वी उत्तर प्रदेश के प्रांत संयोजक सत्येंद्र ने लोगों को संकल्प दिलाया कि इस कम्पनी को खदेड़ कर ही दम लेंगे। महानगर संयोजक कविता मालवीय ने कहा कि छोटे और फुटकर व्यापारियों के आर्थिक स्वतंत्रता में ये कम्पनी बाधक है। काशी प्रांत प्रचार प्रमुख (पूर्वी उप्र) डॉ अवनीन्द्र राय ने कहा कि मंच देश की उद्यमिता को नष्ट नहीं होने देगा। छोटे और खुदरा व्यापारियों का हित मंच के लिए सर्वोच्च प्राथमिकता है। उनके हित के लिए हम किसी विदेशी निवेश की वास्तविकता से खुश नहीं हो सकते। पूर्वांचल संयोजक अखिलेश मिश्र ने कहा कि अमेजॉन समेत ई—कामर्स कम्पनियों ने छोटे और मझोले व्यापारियों की आर्थिक रूप से कमर तोड़ दी है। प्रदर्शन में कंफेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स, अखिल भारतीय व्यापार मंडल, वाराणसी व्यापार मंडल, लघु उद्योग भारती, महानगर उद्योग व्यापार समिति, दवा विक्रेता समिति, मोबाइल असोसिएशन वाराणसी, इलेक्ट्रॉनिक असोसिएशन वाराणसी,वाराणसी व्यापार मंडल के प्रतिनिधियों के साथ मंच के संजय, अक्षय, चांदनी, निर्मला आदि शामिल रहे।