असम में रास महोत्सव की तैयारी शुरू

  • Post By Admin on Oct 27 2021
असम में रास महोत्सव की तैयारी शुरू

बिश्वनाथ: शरद ऋतु के आगमन के साथ राज्य के विभिन्न हिस्सों में रास महोत्सव की तैयारियां पूरे जोरशोर से चल रही हैं। रास महोत्सव के दौरान राज्य के विभिन्न हिस्सों में बड़े स्तर पर मेलों का भी आयोजन होता है। देररात तक श्रद्धालु रास महोत्सव का आनंद उठाते हैं।

कोरोना महामारी, लॉकडाउन की स्थिति के बाद अब पूर्व की तरह ही बिश्वनाथ जिला के गोहपुर के बाराचुक में श्रीकृष्ण रसोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। बाराचुक युवा संघ के सौजन्य से बाराचुक हरिमंदिर परिसर में दो दिवसीय कार्यक्रम के साथ पूर्ण रूप से श्रीकृष्ण रासलीला का आयोजन किया गया है। बाराचुक के युवा इस समय रास के आयोजन में व्यस्त हैं।

उल्लेखनीय है कि असम में रास महोत्सव के दौरान भगवान श्रीकृष्ण की विभिन्न भाव-भंगिमाओं वाली प्रतिमाओं के जरिए रास लीला का चित्रण किया जाता है। बेहद आकर्षक ढंग से प्रतिमाओं को बनाया जाता है। आयोजन स्थल पर सजीव रास लीलाओं का भी मंचन किया जाता है। रास महोत्सव मुख्य रूप से राजधानी गुवाहाटी और आसपास के इलाकों के साथ ही नलबारी, बरपेटा, बिश्वनाथ, शोणितपुर, नदी द्वीप माजुली समेत अन्य जिलों में बड़े स्तर पर किया जाता है। यह महोत्सव कई दिनों तक चलता है। कोरोना के चलते पिछले वर्ष रास महोत्सव का आयोजन नहीं किया गया था। यही कारण है कि इस बार के रास महोत्सव को लेकर लोगों में खासा उत्साह देखा जा रहा है।