घरों में ही जश्न के साथ नए साल का स्वागत

  • Post By Admin on Mar 25 2020
घरों में ही जश्न के साथ नए साल का स्वागत

सूर्यगढ़ा: कोरोना वायरस के आतंक में भी लोगों ने अपने-अपने घरों में जश्न के साथ विक्रम संवत 2077 का स्वागत किया। रंग-बिरंगी रंगोलियां बनाई व स्वादिष्ट व्यंजन का लुत्फ लिया।

श्रीसीताराम ठाकुरबाड़ी मुस्तफापुर के महंत ने अपने संदेश में कहा कि चैत्र शुक्ल प्रतिपदा ही भारतीयों के लिए नववर्ष का प्रथम दिन है। उन्होंने बताया कि इसी दिन ब्रह्मा जी ने जगत की रचना प्रारंभ की। भगवान श्रीराम का राज्याभिषेक इसी दिन हुआ था। भगवान झूलेलाल का अवतरण दिवस आज ही है। महाराज युधिष्ठिर द्वारा संवत प्रारंभ करने का दिन चैत्र शुक्ल प्रतिपदा ही है। उन्होंने कहा कि आज ही के दिन वासंती नवरात्र की घर-घर स्थापना होती है। इसके साथ ही देवी पूजा की शुरूआत हो जाती है। इस अवसर पर लोगों ने मोबाईल संदेश से एक-दूसरे को नववर्ष की शुभकामनाएं दी।