वारंटी को पकड़ने गयी पुलिस टीम पर हमला, कई पुलिस कर्मी घायल

  • Post By Admin on Oct 27 2020
वारंटी को पकड़ने गयी पुलिस टीम पर हमला, कई पुलिस कर्मी घायल

एटा : जिले की अलीगंज कोतवाली क्षेत्र के गांव चमन नगरिया में बीती रात वारंटी को पकड़ने गयी पुलिस टीम पर गांव वालों ने हमला बोल दिया। इसको लेकर बवाल इतना बढ़ गया कि उपद्रवी भीड़ ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी और ईंट-पत्थर बरसाने लगे। नामजद आरोपियों के खिलाफ न्यायालय से वारंट था। 

अलीगंज कोतवाली पुलिस गांव में पहुंची ही थी कि वहां कुछ लोग शराब के नशे में गाली-गलौज करने लगे। इसको लेकर पुलिस से उनकी कहासुनी हो गयी। इसी बीच चमन नगरीय गांव के रहने वाले आसपास के लोग इकट्ठा हो गए और दारोगा सहित कांस्टेबल/महिला कांस्टेबल को धर दबोचा और जमकर धुनाई कर दी। मौका देख पुलिस कर्मियों ने थाने फोन कर दिया। आनन फानन में कई पुलिस की गाड़ियां जा पहुंची तो उग्र भीड़ ने पुलिस की गाड़ियों पर भी फायरिंग शुरू कर दी और जमकर ईंट पत्थर बरसाए। इसमें कुछ कई पुलिस कर्मी भी घायल हुए।   

अलीगंज कोतवाली में तैनात दारोगा संजय सिंह ने रिपोर्ट दर्ज कराते हुए बताया कि हम महिला कॉस्टेबल रीनू यादव और दो सिपाहियों के साथ कार से वारंटियों को पकड़ने गए थे,जब चमन नगरीय गांव पहुँचे तो वहाँ पूछताछ करने पर शराब के नशे में धुत्त कुछ लोगों ने पुलिस से अभद्रता कर दी,जिससे पुलिस से कहासुनी हुई तो इसी बीच आपराधिक प्रवृत्ति के लगभग 150 से अधिक लोग इक्कठा हो जिन्होंने पुलिस टीम को बंधक बना लिया और हाथापाई कर दिया। हमने सूचना अधिकारियों को दी। इस पर पीआरवी 1951,कोबरा मोबाइल, और कई पुलिस की गाड़ियां मौके पर पहुँची तो दबंगों ने फायरिंग और ईंट-पत्थर मारने शुरू कर दिए। ईंट-पत्थर लगने से कई पुलिस कर्मी घायल हो गए। 

मामला गंभीर देख सर्कल का भी फोर्स बुलाया गया और अधिक पुलिस बल देख आरोपी नत्थू पुत्र ख्वाजा,अनीस पुत्र हजारी,अबरार पुत्र गुलाम नवी,आमिर पुत्र गुलाम नवी,रिजवान पुत्र गुलाम नवी,अमरीन पुत्र गुलामनबी, मल्लों पुत्र गुलामनबी, अन्नू पुत्र चंद्रपाल,गोपाली पुत्र सलामत अली,फरीदा पुत्र साबिर,गुलाब पुत्र चांद खा, अलीदराज पुत्र बुद्धू खा, जहूर खा पुत्र हजारी,सलीम पुत्र करीम, सुल्तान पुत्र करीम, लड्डन पुत्र हजारी सहित 100-150 अज्ञात लोग फरार हो गए। इसलिए इन सबकी गिरफ्तारी नहीं हो सही।

 अलीगंज कोतवाली में 17 नामजद और इस बवाल में शामिल 150 अज्ञात आरोपियों पर एफआईआर दर्ज करा दी गयी है। गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीमें दबिश दे रही हैं।अभी तक कोई गिरफ्तार नहीं हो सका है।