बीपीएससी प्रश्नपत्र मामले में कार्यवाही के बदले अमृत महोत्सव का किया जा रहा प्रमोशन

  • Post By Admin on May 19 2022
बीपीएससी प्रश्नपत्र मामले में कार्यवाही के बदले अमृत महोत्सव का किया जा रहा प्रमोशन

पटना : बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) की 67 वीं संयुक्त प्रारंभिक परीक्षा (पीटी) का प्रश्नपत्र वायरल होने का मामला लगातार तूल पकड़ता जा रहा है। इस मामले की गहन जांच चली और कई खुलासे भी हुए हैं। इस मामले ने विपक्षी दलों को बहुत बड़ा मुद्दा दिया है सरकार को घेरने के लिए।

इसी मामले को लेकर  लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) की प्रदेश प्रवक्ता, सचिव सुरभि ठाकुर ने विगत 11 मई को माननीय मुख्यमंत्री जी को पत्र लिखकर बीपीएससी पेपर लीक मामले में दोषियों पर सख्त कार्यवाही करने की गुजारिश की थी। बातचीत में भड़कते हुए सुरभि ठाकुर ने बताया कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी के महकमे का भद्दा मजाक देखिए। मैंने पत्र इस उम्मीद के साथ लिखा था कि उसे देखा जाए और हजारों छात्रों के भविष्य से जुड़ा मसला है, उनके लिए कुछ किया जाए। लेकिन पत्र देखना व उस पर सुनवाई तो दूर की बात है। उनके पत्र के जवाब में 2 घण्टे बाद ऑटो रिप्लाई में आजादी के अमृत महोत्सव की वेबसाइट का लिंक आ जाता है। लीजिये अब BPSC का मुद्दा छोड़ो अमृत महोत्सव का झुनझुना पकड़ो। मैंने कुछ और दिन इंतज़ार किया कि मुख्यमंत्री जी के पास कई अन्य जरूरी काम होंगे लेकिन अब तक जवाब के नाम पर सिर्फ अमृत महोत्सव की वेबसाइट का URL ही मिला है। उन्होंने मेल का स्क्रीनशॉट दिखाते हुए कहा कि यदि आप इसे देखेंगे तो आपको समझ आ जाएगा मुख्यमंत्री जी कितने संवेदनशील व्यक्ति हैं। यदि आप मुख्यमंत्री जी को कोई मेल करेंगे तो आपकी ईमेल आईडी एक टूल की तरह इस्तेमाल होगी। आपको सरकारी विज्ञापनों का लिंक भेजा जाएगा लेकिन सुनवाई नहीं होगी। नाराजगी जाहिर करते हुए उन्होंने कहा कि इससे तो बेहतर होता की कोई ऑटो रिप्लाई भी न आता। बिहार के भविष्य के साथ इतनी असंवेदनशीलता के लिए आपको जनता माफ नहीं करेगी मुख्यमंत्री जी।