कार्यकर्ता की पिटाई पर एसपी से मिला एबीवीपी प्रतिनिधि मंडल

  • Post By Admin on Oct 26 2020
कार्यकर्ता की पिटाई पर एसपी से मिला एबीवीपी प्रतिनिधि मंडल

कानपुर : पनकी थाना क्षेत्र में झगड़े का वीडियो बनाना एबीवीपी कार्यकर्ता को मंहगा पड़ गया और भीड़ ने वीडियो बना रहे एबीवीपी कार्यकर्ता की पिटाई कर दी। आरोप है कि दबंगों ने उसके घर में पथराव भी किया। जिसके बाद पीड़ित ने पनकी थाना पुलिस से मामले की शिकायत की। पुलिस ने उसकी शिकायत को गम्भीरता से नहीं लिया। जिसके बाद एबीवीपी कार्यकर्ताओं में उबाल देखने को मिला और दर्जनों कार्यकर्ताओं ने एसएसपी कार्यालय पहुंच कर जमकर हंगामा किया। एसपी पश्चिमी ने एबीवीपी प्रतिनिधि मंडल से मामले को समझकर आरोपियों के खिलाफ कार्यवाई  का आश्वासन दिया। 

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद कानपुर महानगर के कार्यकर्ता व पदाधिकारी सोमवार को एसएसपी कार्यालय पहुंचे। कार्यकर्ताओं का आरोप है कि देर रात पनकी थाना क्षेत्र में रहने वाले विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता निर्भय प्रताप सिंह पर कुछ अराजक तत्वों ने जानलेवा हमला कर दिया। पीड़ित ने जानलेवा हमले की शिकायत पनकी थानाध्यक्ष से की पर थानाध्यक्ष कार्यवाई के बजाय मामले को दबाने में जुट गये। कार्यकर्ता की पिटाई से आहत दर्जनों एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने पुलिस मुर्दाबाद के नारे लगाए औऱ धरने पर बैठ गए। एबीवीपी कार्यकर्ता पनकी एसओ को हटाने की मांग कर रहे थे। बताया गया कि पनकी थाना क्षेत्र के रतनपुर में रहने वाला निर्भय सिंह एबीवीपी का विस्तारक है। उसके घर के पास ही होटल संचालक और स्थानीय लोगों में झगड़ा हो रहा था। दोनों पक्षों में जमकर मारपीट और गालीगलौज होता देख निर्भय ने वीडियो बनाना शुरू कर दिया। इसी दौरान कुछ लोगों ने उस पर हमला बोल कर जमकर पिटाई कर दी। पिटाई से निर्भय का सिर फट गया। कार्यकर्ताओं ने कहा कि पूरे मामले की न्यायिक जांच होना चाहिये और दोषियों पर सख्त कार्यवाई होनी चाहिये। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक की अनुपस्थिति में पुलिस अधीक्षक पश्चिमी डा. अनिल कुमार ने कानपुर महानगर के संगठन मंत्री सत्या चौधरी और विभाग संयोजक ऋतुराज मिश्रा की अगुवाई वाले प्रतिनिधि मंडल से वार्ता की। जिला संयोजक मृत्युंजय चौहान ने बताया कि अभाविप पीड़ित छात्र को न्याय मिलने तक संघर्ष करती रहेगी। प्रतिनिधि मंडल ने घटना की न्यायिक जांच व दोषी थाना प्रभारी पनकी के विरुद्ध अनुशासनात्मक जांच के लिए ज्ञापन सौंपा। इस दौरान उन्होंने बताया कि पुलिस अधीक्षक ने सीओ स्तर के अधिकारी से उक्त प्रकरण की जांच कराने का आदेश दिया है। इस दौरान हिमांशु पाल,दिनेश यादव, अनुभा सिंह सोलंकी, अविनाश शुक्ला, गोपाल मिश्रा,आशीष शुक्ला, साहिल चौरसिया, शिफा नूर, सलमान खान, अमन सिंह, जागृति तिवारी, आदर्श पासवान, विवेक कुमार, हर्ष गुप्ता, नितेश कुमार, शिवम गुप्ता, सूर्यांश वर्मा, विशाल कुमार गुप्ता, आयुष गुप्ता आदि लोग उपस्थित रहें।