भगवान राम की तपोस्थली चित्रकूट धाम में भारी संख्या में पहुंचे श्रद्धालु

  • Post By Admin on Jul 26 2021
भगवान राम की तपोस्थली चित्रकूट धाम में भारी संख्या में पहुंचे श्रद्धालु

चित्रकूट: भगवान शिव का अतिप्रिय मास श्रावण माह भगवान राम की तपोस्थली चित्रकूट में पवित्र मंदाकिनी नदी में सावन सोमवार के दिन हजारों की संख्या में पहुंचे श्रद्धालुओं ने डुबकी लगाईं और कामतानाथ पर्वत की परिक्रमा लगाई। जानकारी के अनुसार चित्रकूट में सावन के प्रथम सोमवार के दिन शिवालयों में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ सुबह से देखने को मिली। यहां मत गजेंद्र नाथ शिव मंदिर में भक्तों का तांता लगा है। बिरसिंहपुर गैबीनाथ में हजारों की तादाद में लोग उमड़ पड़े हैं। कोरोना गाइडलाइन का पालन कराने के लिए पुलिस तैनात की गई। यहां पर पहुंचने वाले सभी श्रद्धालुओं को सामाजिक दूरी और मास्क लगाने की अपील की जा रही है।

बता दें कि सावन माह का विशेष महत्त्व भगवान शिव और पार्वती की असीम कृपा प्राप्त होती है। सावन के सोमवार में विशेष पूजा अर्चना करने से भक्तों की मनोकामना पूरी होती है। यही वजह है कि चित्रकूट में रामघाट व कामदगिरि परिक्रमा में हजारों की तादाद में श्रद्धालु पहुंचे हैं।

वैसे तो मान्यता है कि चित्रकूट में हर माह की अमावस्या यहां बड़ी संख्या में लोग पहुंचते हैं। धार्मिक ग्रन्थों के अनुसार भगवान श्रीराम के वनवास काल के समय भगवान श्रीराम हर अमावस्या पर मंदाकिनी नदी में स्नान कर कामदगिरि पर्वत की परिक्रमा करते थे। बताया जाता है कि अमावस्या के दिन मंदाकिनी स्नान और कामदगिरी पर्वत की परिक्रमा लगाने से मनुष्य की सारी मनोकामनाएं पूर्ण होती है। इसी मान्यता के अनुसार हर अमावस्या पर तीर्थ नगरी चित्रकूट में बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचते हैं।