सरकार उखाड़ फेेंकने को लेकर होना होगा संगठित : मौलाना इकबाल

  • Post By Admin on Nov 13 2021
सरकार उखाड़ फेेंकने को लेकर होना होगा संगठित : मौलाना इकबाल

हमीरपुर : जैसे जैसे चुनाव नजदीक आ रहे हैं, राजनैतिक दलों की गतिविधियां भी तेज हो रही हैं। आज सपा अल्पसंख्यक मोर्चे के राष्ट्रीय अध्यक्ष मौलाना इकबाल कादरी व राष्ट्रीय महासचिव मो यासीन खांन के यहां आगमन पर सपा नेताओं, कार्यकर्ताओं व अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों ने जमकर स्वागत किया।

मौदहा कस्बे के स्थानीय गेस्ट हाउस में आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन में संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने शायराना अंदाज में भाषण की शुरुआत करते हुए कहा कि कुछ तो मजबूरियां रही होंगी, यूं ही कोई बेवफा नहीं होता। उन्होंने सरकार को आड़े हाथ लेते हुए यह आरोप लगाया कि उक्त सरकार तानाशाही है, मंहगाई चरम पर है और चुनाव जीतने के लिए ध्रुवीकरण के लिए एक तरफ मुसलमानों का नुमाइंदा बताकर ओवैशी साहब को मुसलमानों का व दूसरी तरफ अपने बाबा के माध्यम से हिंदुओं को भड़काने का काम शुरू हो चुका है। उन्होंने कहा कि इस वक्त हिंदू मुस्लिम की एकता की आवश्यकता है जिससे ऐसी सरकार को उखाड़ फेंका जाये और इसके लिये हमें संगठित होना होगा।

राष्ट्रीय महासचिव यासीन खांन ने कहा कि देश और प्रदेश की सरकारें चुनाव जीतने के लिए हर स्तर पर उतर सकती हैं, जबकि नोटबंदी से लेकर कोरोना काल के लाकडाउन का जिक्र करते हुए उन्होंने मजदूरों के पलायन व इनकी परेशानियां,कोरोना से पीड़ित तड़पते हुए मरीजों जिन्हें आक्सीजन तक नसीब नहीं हो रही थी, की याद दिलाते हुए कहा कि यह सब भूल मत जाना, चुनाव के समय अपने मत की ताकत से इस सरकार को उखाड़ फेंकना।

इस अवसर पर पार्टी के जिलाध्यक्ष राजबहादुर पाल, पार्टी से विधानसभा चुनाव लड़ चुके डॉ मनोज प्रजापति, पूर्व जिलाध्यक्ष ज्ञान सिंह यादव, व्यापार सभा के केशव बाबू शिवहरे,सपा जिला महासचिव कमरुद्दीन, जिला उपाध्यक्ष जावेद मेजर, जिलाध्यक्ष अल्पसंख्यक लाला प्रधान, माया बाल्मीकि, ओमप्रकाश सोनकर,नगर अध्यक्ष जबीर चौधरी, जलालुद्दीन मुश्की सहित तमाम नेता व कार्यकर्ता मंच पर व सम्मेलन स्थल पर मौजूद रहे। कार्यक्रम का संचालन पूर्व जिला महासचिव रईश अहमद ने किया।