स्वास्थ्य विभाग की टीम भ्रमण कर कोरोना संदिग्धों की कर रही खोज

  • Post By Admin on Mar 25 2020
स्वास्थ्य विभाग की टीम भ्रमण कर कोरोना संदिग्धों की कर रही खोज

लखीसराय: कोरोना वायरस संक्रमण के मद्देनजर पूरे जिले को लॉकडॉउन कर दिया गया है। इस लॉकडाउन की स्थिति में स्वास्थ्य विभाग की टीम सभी प्रखंडों के गांवों व पंचायतों में भ्रमण कर कोरोना वायरस संक्रमण के संदिग्ध लोगों के बारे में जानकारी जुटा रही है। ऐसे किसी भी मामले या लक्षण की जानकारी मिलने पर स्वास्थ्यकर्मी मरीज की स्क्रीनिंग कर रहे हैं। कोरोना वायरस संक्रमण के संदिग्ध लोगों को क्वारेंटाइन किया जा रहा है।

एसीएमओ डॉ. देवेंद्र चौधरी ने बताया कि जिला के सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर कोरोना संदिग्ध मरीजों की स्क्रीनिंग के लिए 4 लोगों की टीम तैयार की गई है। प्रत्येक टीम की आठ घंटे की शिफ्ट में ड्यूटी है। इस टीम में 1 डॉक्टर, 1 पारामेडिकल स्टाफ, 2 एएनएम शामिल हैं। वहीं दूसरी ओर स्वास्थ्यकर्मियों के माध्यम से कोरोना के लक्षणों के बारे व रोकथाम के उपायों को लेकर माइकिंग के माध्यम से प्रचार प्रसार भी किया जा रहा है।

बुजुर्गों पर भी है स्वास्थ्य विभाग की नजर: 

कोरोना संक्रमण के बुजुर्गों में अधिक खतरा को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ऐसे लोगों पर भी नजर बनाए हुआ है। प्रखंडों के कई इलाकों में विशेषकर बाहर से आए बुजुर्ग लोगों का भी पता लगाया जा रहा है। ऐसे लोगों की स्क्रीनिंग कर उनकी जांच की जाएगी। वहीं लोगों में ऐसे लोगों के प्रति देखभाल को लेकर जागरूक भी किया गया है। विभाग की ओर से प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में आइसोलेशन वार्ड भी बनाए गए हैं। इसके अलावा यहां कई जगहों पर क्वारेंटाइन सेंटर बनाए गए हैं, जहां पर कोरोना संदिग्ध मरीजों को रखने की व्यवस्था की गई है।

सोशल डिस्टेंसिंग पर दिया जा रहा जोर: 

स्वास्थ्य विभाग के लोग भ्रमण कर जहां संदिग्धों की पहचान में जुटे हैं वहीं सोशल डिस्टेंसिंग को पूरी तरह बरतने के लिए कहा जा रहा है। लोगों से बहुत ही आवश्यक होने पर घर से बाहर निकलने पर मास्क व खांसते-छींकते वक्त रूमाल का इस्तेमाल, घर लौटने पर 20 सेकेंड तक अच्छे से रगड़कर हाथ धोने व दूसरे सभी बचाव के बारे में कहा गया है।