बिहार में चल रहा था आतंकी ट्रेनिंग कैम्प, निशाने पर थे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

  • Post By Admin on Jul 14 2022
बिहार में चल रहा था आतंकी ट्रेनिंग कैम्प, निशाने पर थे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

पटना: ज्ञात हो कि बीते 12 जुलाई को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी झारखंड और बिहार दौरे पर थे। झारखंड के देवघर में पूजा अर्चना के पश्चात उन्होंने देवघर को कई योजनाओं की सौगात भेंट की। इसके पश्चात वे बिहार की राजधानी पटना पहुंचे। पीएम मोदी का बिहार दौरा को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है। जानकारी के अनुसार प्रधानमंत्री का बिहार दौरा आतंकियों के निशाने पर था जिसका खुलासा पुलिस ने किया है।

एसएसपी पटना ने बताया कि हम रूटीन काम के दौरान ऐसे संस्थानों (पीएफआई) पर नजर रखते हैं। पीएम के आते ही हम अलर्ट पर थे। हमें इसकी जानकारी मिली और बारीकी से जांच शुरू की गई। इस दौरान झारखंड पुलिस का रिटायर्ड दरोगा समेत 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। वहीं 26 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। कथित आतंकियों में से एक झारखंड पुलिस का रिटायर्ड दरोगा मो. जलालुद्दीन और दूसरा अहतर परवेज है। अहतर परवेज पटना के गांधी मैदान में हुए बम धमाके का आरोपी मंजर का सगा भाई है। 

पुलिस ने बताया कि मो. जलालुद्दीन और अहतर परवेज दोनों   पिछले कुछ समय से पटना के फुलवारी शरीफ इलाके में आतंकी गतिविधियों की ट्रेनिंग दे रहे थे। यहां ज्यादातर केरल, पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश व तमिलनाडु के युवा ट्रेनिंग लेने आते थे।इनका मुख्य उद्देश्य हिंदुओं के खिलाफ मुस्लिमों को भड़काना था। 

पुलिस ने खुलासा किया है कि दोनों संदिग्धों का संबंध पाकिस्तान, बांग्लादेश और तुर्की समेत कई इस्लामिक देशों से है। इन देशों से फंडिंग हो रही थी। इनके पास से पीएफआई का झंडा, बुकलेट, पंपलेट और कई संदिग्ध दस्तावेज बरामद किए गए हैं। जिसमें भारत को 2047 तक इस्लामिक मुल्क बनाने का जिक्र किया गया है।