शिवसेना को करारा जवाब देने में सक्षम: नारायण राणे

  • Post By Admin on Aug 24 2021
शिवसेना को करारा जवाब देने में सक्षम: नारायण राणे

मुंबई: केंद्रीय उद्योगमंत्री नारायण राणे ने कहा कि शिवसेना को करारा जवाब देने में वे सक्षम हैं। यहां महाविकास आघाड़ी होने की वजह से शिवसेना उत्पात मचा रही है, जबकि दिल्ली में उनकी सरकार है। नारायण राणे के मुख्यमंत्री के विरुद्ध की गयी टिप्पणी से शिवसैनिक आक्रामक हो गए हैं।

नारायण राणे ने मंगलवार को रत्नागिरी जिले में स्थित चिपलुन में पत्रकारों को बताया कि उन्होंने कोई अपराध नहीं किया है। किसी भी मुख्यमंत्री को देश की आजादी के बारे में जानकारी होनी चाहिए। मुख्यमंत्री को देश की आजादी के बारे में जानकारी न होने की वजह से उन्होंने कहा था कि अगर वे उस जगह होते तो मारते। इसका अर्थ मैंने मुख्यमंत्री को मारने की धमकी दी, ऐसा नहीं होता है। नारायण राणे ने कहा कि उन्होंने कई संवैधानिक पदों का निर्वहन किया है, उन्हें कानून का पूरा ज्ञान है। उन्होंने कहा कि अब शिवसेना में कोई दम नहीं रह गया है, यह लोग कुछ नहीं कर सकते हैं।

जानकारी के अनुसार नारायण राणे ने चिपलुन में होटल रिम्ज में अपने वकील संजय चिटणीस के साथ चर्चा की है और पुलिस की ओर से दर्ज मामलों को उच्च न्यायालय में चुनौती देने की तैयारी की है। बताया जा रहा है कि नारायण राणे उच्च न्यायालय में अग्रिम जमानत लेने का भी प्रयास कर रहे हैं।

दूसरी तरफ राणे के मुख्यमंत्री के खिलाफ की गयी टिप्पणी से नाराज आक्रामक शिवसैनिकों ने नासिक में पुराना नासिक रोड स्थित वसंत स्मृति नामक भाजपा कार्यालय में तोड़फोड़ की है। जबकि सांगली तथा चिपलुन में नारायण राणे की तस्वीरों पर स्याही फेंकी गयी है। चिपलुन में आक्रामक शिवसैनिकों ने नारायण राणे के पोस्टर फाड़ डाले हैं और राणे का पुतला जलाने का प्रयास किया है। चिपलुन में शिवसैनिकों ने नारायण राणे की जन आशीर्वाद यात्रा में हंगामा मचाने का प्रयास किया लेकिन पुलिस ने यहां स्थिति सामान्य बनाए रखा। जुहू में शिवसेना कार्यालय पर महिला शिवसैनिकों की भीड़ जमा होने लगी है। इसलिए किसी भी तरह की गड़बड़ी को रोकने के लिए पुलिस सतर्क है।