रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने किया अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन

  • Post By Admin on Jul 23 2022
रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने किया अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन

नई दिल्ली : रिलायंस इंडस्ट्रीज़ लिमिटेड ने पहली तिमाही के नतीजे घोषित किए। कंपनी के पहली तिमाही के नतीजे  शानदार हैं। रिलायंस इंडस्ट्रीज़ के शानदार नतीजों पर मुकेश अंबानी ने कहा कि “दुनिया भर के ऊर्जा बाज़ारों को भूराजनीतिक परिस्थियों ने बाधित किया है। दूसरी ओर, माँग में लगातार बढ़ोतरी हुई है और उत्पादों की मार्जिन में बेहतरी देखी गई है। कच्चे तेल के बाजार में उथल-पुथल के साथ ही माल की ढुलाई की लागत के बढ़ने से कई चुनौतियों सामने थीं, लेकिन इन सबके बावजूद, O2C व्यवसाय ने अपना अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है।

मैं अपने कंज्यूमर प्लेटफॉर्म्स की प्रगति से काफी खुश हूं। रिटेल व्यापार में हमारा ध्यान उपभोक्ता तक अपनी पहुंच बढ़ाने और उनको उत्पाद का बेहतर मूल्य दिलाने पर केंद्रित है। हमारी मज़बूत सप्लाई चेन और कई जगहों से सामान लाने की बेहतर क्षमता से हम आवश्यक चीज़ों की गुणवत्ता बेहतर बनाए रखते हुए क़ीमतों को कम रखने की कोशिश कर रहे हैं ताकि आम ग्राहक को मुद्रास्फ़ीती के दबावों से बचा सकें। हमारे डिजिटल सेवा प्लेटफॉर्म पर बड़ी संख्या में ग्राहक जुड़ रहे हैं। जियो सभी भारतीयों के लिए डेटा उपलब्धता बढ़ाने की दिशा में काम कर रहा है। साथ ही मुझे मोबिलिटी और एफटीटीएच ग्राहकों की संख्या में सकारात्मक रुझान देखकर खुशी हो रही है।

रिलायंस भारत की ऊर्जा सुरक्षा में निवेश करने के लिए प्रतिबद्ध है। सोलर एनर्जी स्टोरेज सॉल्यूशंस और हाइड्रोजन ईको-सिस्टम में हमारा बिज़नस टेक्नोलॉजी लीडर्स के साथ पार्टनरशिप कर रहा है। ये साझेदारी हमें सभी भारतीयों के लिए स्वच्छ, हरित और किफ़ायती ऊर्जा के सपने को साकार करने में मदद करेगी।“

 

रिलायंस इंडस्ट्रीज़ लिमिटेड के पहली तिमाही के नतीजे : 

  • रिलायंस का कन्सोलिडेटेड रेवेन्यू 53% (YoY) बढ़कर ₹2,42,982 करोड़ ($30.8 बिलियन) दर्ज किया गया
  • रिलायंस का तिमाही कन्सोलिडेटेड EBITDA रिकॉर्ड 45.8% (YoY) बढ़कर ₹40,179 करोड़ ($5.1 बिलियन) रहा
  • तिमाही का टैक्स पूर्व कन्सोलिडेटेड लाभ (PBT), पिछले वर्ष की पहली तिमाही के मुकाबले 57.7% बढ़कर अभी तक के उच्चतम स्तर ₹27,236 करोड़ ($3.4 बिलियन) जा पहुंचा है
  • तिमाही का कन्सोलिडेटेड शुद्ध लाभ पिछले वर्ष की समान अवधि के मुकाबले 40.8% (YoY) बढ़कर ₹19,443 करोड़ ($2.5 बिलियन) दर्ज हुआ
  • रिलायंस इंडस्ट्रीज़ की पहली तिमाही की आय ₹26.6 प्रति शेयर रही, जो 42.7% ज़्यादा है
  • रिलायंस का पहली तिमाही का निर्यात ₹96,212 crore ($12.2 billion) रहा जो 71.3% ज़्यादा है
  • जियो प्लेटफ़ॉर्म्स का पहली तिमाही का EBITDA ₹ 11,424 crore ($ 1.4 billion) रहा जो 28.5% अधिक हैं
  • जियो प्लेटफ़ॉर्म्स का पहली तिमाही का शुद्ध मुनाफ़ा ₹ 4,530 crore ($ 574 million) रहा जो 24.1% की बढ़ोतरी है
  • रिलायंस रिटेल का पहली तिमाही का सकल राजस्व ₹ 58,554 crore ($7.4 billion) रहा जो पिछली बार से 51.9% अधिक है
  • पहली तिमाही में रिलायंस रिटेल का EBITDA 97.7% बढ़कर ₹3,837 करोड़ ($486 मिलियन) हुआ
  • रिलायंस रिटेल का पहली तिमाही में शुद्ध लाभ 114.2% बढ़कर ₹2,061 करोड़ ($261 मिलियन) जा पहुंचा
  • रिलायंस जियो का औसत राजस्व प्रति यूज़र (ARPU) ₹175.7 प्रति माह रहा। इसमें सालाना आधार पर 26.9% और तिमाही आधार पर 4.8% की तीव्र वृद्धि देखी गई। टैरिफ में वृद्धि और FTTH में ग्रोथ इसके प्रमुख कारण रहे
  • रिलायंस जियो ने तिमाही में 97 लाख नए ग्राहक जोड़े, 30 जून 2022 तक जियो के ग्राहकों की संख्या 41 करोड़ 99 लाख पहुँच गई है
  • रिलायंस जियो नेटवर्क पर प्रति ग्राहक प्रति माह औसत डेटा खपत 20.8 GB जा पहुंची है। वॉयस कालिंग भी बढ़कर 1,001 मिनट प्रति माह हो गई है। डेटा की कुल खपत 27.2% बढ़कर 25.9 अरब जीबी हो गई है। वहीं वॉयस ट्रैफिक1.25 ट्रिलियन मिनट रहा जो 17.2% ज्यादा है
  • जियो ने फ़ाइबर यानि FTTH सर्विसेज़ में अपनी लीडरशिप पोज़िशन बरक़रार रखते हुए अपनी सेवा 70 लाख परिसरों तक पहुँचा दी है
  • कोविड के बाद यह पहली तिमाही है जब रिलायंस रिटेल अपने ऑपरेशन्स बिना रूकावट जारी रख सकी, अब ग्राहकों की संख्या कोविड काल के पहले से ज़्यादा हो गई है
  • रिलायंस रिटेल के रजिस्टर्ड ग्राहक अब 20 करोड़ से ज़्यादा हो गए हैं। पहली तिमाही के अंत तक रजिस्टर्ड ग्राहकों की संख्या 29% (YoY) बढ़कर 20 करोड़ आठ लाख तक पहुँच गई है
  • रिलायंस रिटेल ने पहली तिमाही में 720 नए स्टोर खोले, इस तरह स्टोर की संख्या बढ़कर 15,916 तक पहुँच गई है जिनका कुल एरिया 4 करोड़ 32 लाख स्क्वेयर फ़ीट है
  • पहली तिमाही में रिलायंस रिटेल ने सप्लाय चेन को और मज़बूत बनाया है, इस प्रयास में 79 नए वेयरहाउज़ खोले गए जिनका कुल क्षेत्रफल 33 लाख स्क्वेयर फ़ीट है
  • रिलायंस रिटेल डिजिटल कॉमर्स के रोज़ के ऑर्डर साल-दर-साल 66% बढ़ गए हैं। न्यू कॉमर्स के रिटेल से जुड़े किराना स्टोर्स की संख्या पिछले साल के मुकाबले 3 गुना हो गई है।
  • रिलायंस रिटेल ने 2022 की पहली तिमाही में 17,000 लोगों को नौकरी दी, इस तरह रिलायंस रिटेल के कर्मचारियों की कुल संख्या 3,79,000 हो गई है
  • रिलायंस O2C (ऑइल टू केमिकल्स) ने तिमाही में राजस्व और EBITDA के मामले में ऐतिहासिक प्रदर्शन किया। राजस्व 56.7% वर्ष-दर-वर्ष बढ़कर ₹161,715 करोड़ हो गया, जो मुख्य रूप से कच्चे तेल और उत्पाद की कीमतों में वृद्धि के कारण था
  • रिलायंस का O2C EBITDA 62.6% (Y-o-Y) बढ़कर ₹19,888 करोड़ हो गया
  • रिलायंस ऑयल एंड गैस सेगमेंट का राजस्व वर्ष-दर-वर्ष 183.0% बढ़कर ₹ 3,625 करोड़ हो गया; सेगमेंट EBITDA उछलकर ₹2,737 करोड़ हो गया।
  • 30 जून, 2022 को समाप्त तिमाही के लिए रिलायंस का पूंजीगत व्यय (विनिमय दर अंतर सहित) ₹31,434 करोड़ ($ 4.0 बिलियन) रहा